मेरा बचपन मेरी मम्मा की नज़र से...

Friday, October 22, 2010

मामा के साथ सैर सपाटा ------------अनुष्का

जैसा मैंने बताया था की मेरे अन्न प्राशन के लिए मेरे बड़े मामा, नितिन मामा आए थे. मेरे अन्न प्राशन संस्कार के बाद वो ३ दिन हमारे साथ रहे उन ३ दिनों में हम लोगों बहुत सैर सपाटा किया और मामा ने जी भर कर मुझे खिलाया ....

कभी कभी मेरी हरकतों को देख अपने बेटे यानी मेरे प्यारे भैया अर्युश को भी याद करते


हम लोग ३ दिनों में न्यू यार्क, वाशिंटन और फिलाडेल्फिया घुमे ....



जब मामा वापिस गए तो उन्हें तो बुरा लग ही रहा था ....ममा भी रोने लगी तब पापा ने ममा को बताया कि अगले महीने तक हम लोग भी इण्डिया जाएंगे तब उन्हें थोड़ा अच्छा लगा ....अब इंतज़ार शुरू हमारे इण्डिया जाने का :)

12 comments:

प्रवीण त्रिवेदी ╬ PRAVEEN TRIVEDI said...

आइये इंडिया में आपका स्वागत है !!

Vivek Rastogi said...

आओ बिटिया भारत को इंतजार है आपका..

यश(वन्त) said...

Welcome to your Mother Land...My dear.
Hamen bhi intzaar hai aap ke aane ka.

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

chalo bhaai ..ab annprashan ho gaya ...khoob swaad lekar kaya karna ...India aa kar kaisa laga ? isaka intzaar hai

शाहिद मिर्ज़ा ''शाहिद'' said...

अच्छी पोस्ट के साथ अच्छी ख़बर भी.

रानीविशाल said...

@ प्रवीण अंकल, विवेक मामासाब, और यश मामासाब....... वैसे तो आप समझ ही रहे होंगे लेकिन फिर भी बता दूँ ये मेरे लास्ट इण्डिया विज़िट से अब तक के संस्मरण चल रहे है :)
आपकी प्यारी
अनुष्का

निर्मला कपिला said...

वाह अनुश्का क्या बात है तुम्हारे मामा की। बहुत खुशी हुयी कि इन्डिया आ रही हो। क्या मुझ से मिलने आयोगी? इन्तजार करूँगी। बहुत बहुत आशीर्वाद।

ताऊ रामपुरिया said...

मामा के साथ बहुत घूम ली अब आकर ताऊ के साथ भी घूमने की तैयारी कर ली, यह जानकर बहुत अच्छा लगा. प्यार

रामराम.

ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ said...

अरे वाह, अनुष्का बिटिया तो बहुत प्यारी लग रही है। सैर सपाटे की बधाई।
..............
यौन शोषण : सिर्फ पुरूष दोषी?
क्या मल्लिका शेरावत की 'हिस्स' पर रोक लगनी चाहिए?

रावेंद्रकुमार रवि said...

----------------------------------------
यह तो बहुत अच्छी ख़बर है!
----------------------------------------

Udan Tashtari said...

अरे वाह! अगले महिने तो हम भी भारत जायेंगे...वहीं मिल लेंगे. :)

संजय भास्कर said...

welcome to india anuska