मेरा बचपन मेरी मम्मा की नज़र से...

Friday, April 29, 2011

आचार्य संजीव 'सलिल 'नानाजी से मिला प्यार भरा आशीष

मेरे ४थे जन्मदिन के उपलक्ष पर आचार्य सलिल नानाजी से भी प्यार भरा आशीर्वाद प्राप्त हुआ . नानाजी का यह उपहारमयी आशीष मेरे इस जन्मदिन की बहुत ही सुन्दर स्मृति बन कर रहेगा . इसे आज आप सभी से भी साँझा कर रही हूँ .....नानाजी आपका प्यार अमूल्य है . बहुत बहुत आभार  !!

जियो अनुष्का साल हजारों...
 
पैर धरा पर रखो जमाकर
आसमान पर नजर टिकाकर.. 
पंख हौसलों के संग लेकर-
मंजिल को छू लौटो फिर-फिर.
वंदन करलो अरे बहारों...
 
राजकुमारी रानी की तुम.
बहुत लाडली नानी की तुम..
नाक में दम भी कर देती हो-
नव मिसाल शैतानी की तुम..
अर्चन करलो दिव्य नज़ारों...
 
अपनी हिम्मत कभी न हारो.
नियति नटी को गढ़ो-सुधारो..
अपना तो सब साध रहे हैं-
तुम औरों के काम सुधारो..
शीश चढ़ो, धन्य हो हारों...
 
 आचार्य संजीव 'सलिल'
 
******************


10 comments:

शाहिद मिर्ज़ा ''शाहिद'' said...

अनुष्का,
ऐसे ही सबका आशीष फले फूले...
और तुम ज़िन्दगी में हर सफ़लता हासिल करती रहो. आमीन

राज भाटिय़ा said...

अनुष्का,हमारा भी प्यार बेटे

kashvi Kaneri said...

हाय ! अनुष्का जन्म दिन की बघाई तुम्हारे नानाजी की कविता बहुत सुन्दर है । मेरी दादी ने भी मेरे जन्म दिन पर मुझे कविता लिख कर दी है, तुम मेरे ब्लांग मे जरुर आना बताना कैसी है ।

Dinesh pareek said...

आप की बहुत अच्छी प्रस्तुति. के लिए आपका बहुत बहुत आभार आपको ......... अनेकानेक शुभकामनायें.
मेरे ब्लॉग पर आने एवं अपना बहुमूल्य कमेन्ट देने के लिए धन्यवाद , ऐसे ही आशीर्वाद देते रहें
दिनेश पारीक
http://kuchtumkahokuchmekahu.blogspot.com/
http://vangaydinesh.blogspot.com/2011/04/blog-post_26.html

Dinesh pareek said...

आप की बहुत अच्छी प्रस्तुति. के लिए आपका बहुत बहुत आभार आपको ......... अनेकानेक शुभकामनायें.
मेरे ब्लॉग पर आने एवं अपना बहुमूल्य कमेन्ट देने के लिए धन्यवाद , ऐसे ही आशीर्वाद देते रहें
दिनेश पारीक
http://kuchtumkahokuchmekahu.blogspot.com/
http://vangaydinesh.blogspot.com/2011/04/blog-post_26.html

यशवन्त माथुर (Yashwant Mathur) said...

अरे वाह अनु! इतनी अच्छी कविता तुम्हें मिली जन्मदिन पर.ऐसे ही सब बड़ों का आशीर्वाद और प्यार हमेशा तुम्हारे साथ रहे और तुम यूँ ही हँसती खिलखिलाती खूब तरक्की करो यही कामना है.

Love-

mrityunjay kumar rai said...

बधाई और ढेर सारी शुभकामनाएँ!!!

संजय भास्कर said...

अनुष्का तुम्हारे नानाजी की कविता बहुत सुन्दर है
जन्म दिन की ढेर सारी शुभकामनाएँ!!!

चैतन्य शर्मा said...

बहुत सुंदर कविता.....

Chinmayee said...

बहुत सुन्दर कविता
ढेरो शुभकामनाये